शनिवार, जनवरी 29, 2022

अमेरिका के खिलाफ मोर्चा बना रहे रूस और चीन, पुतिन और जिनपिंग ने की वर्चुअल मुलाकात, इन मुद्दों पर हुई बात

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अमेरिका के साथ जारी तनाव के बीच वर्चुअल मुलाकात की है। ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार दोनों देश के टॉप लीडर्स ने दोनों देशों के बीच संबंधों को बेहतर बताया है।

चीनी सरकारी मीडिया की रिपोर्ट मुताबिक शी जिनपिंग ने पुतिन को अपना पुराना दोस्त बताया है। उन्होंने कहा है कि पुतिन ने अपने मूल हितों की रक्षा में दृढ़ता से चीन का समर्थन किया और रूस और चीन को खंडित करने की कोशिशों का विरोध किया है। जिपिंग ने आगे कहा है कि वे इसके लिए पुतिन की सराहना करते हैं। चीन कई क्षेत्रों में रूस का सहयोग करने के लिए नई योजनाओं को शुरू करने को तैयार हैं। दोनों देशो के रिश्ते साझेदारी से कहीं आगे की है।

यह हाई लेवल की बातचीत तब हो रही है जब अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच यूक्रेन संकट को लेकर बातचीत हुई है। अमेरिका ने हाल के दिनों में लगातार इस बात को कहा है कि रूस अगले साल जनवरी के महीने में यूक्रेन पर हमला कर सकता है हालांकि रूस ने इस बात से इनकार कर दिया है।

क्रेमलिन के अनुसार शी जिनपिंग ने पुतिन के समक्ष एशिया-प्रशांत क्षेत्र में अमेरिकी गतिविधियों के बारे में अपनी चिंताओं को उठाया है। इसमें ऑकस के गठन की बात भी शामिल है जो कि एशिया-प्रशांत क्षेत्र में परमाणु अप्रसार की नींव को कमजोर करता है।

पुतिन ने कहा है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चीन और रूस के बीच घनिष्ठ समन्वय समय की जरूरत है। दोनों देशों को आपस में मिलकर कई वैश्विक मुद्दों को हल करने की जरुरत हैं। उन्होंने चीन-रूस संबंधों को 21वीं सदी के लिए अतर्राष्ट्रीय सहयोग का एक सच्चा मॉडल बताया है।


READ ALSO –


Subscribe to our channels on- Facebook & Twitter & LinkedIn


बांग्लादेश का रमना काली मंदिर का राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करेंगे लोकार्पण, जहां 1971 में पाकिस्तानी सेना ने हिंदुओं का किया था नरसंहार

Latest Articles

NewsExpress