शुक्रवार, जनवरी 28, 2022

चीन की मदद से बैलेस्टिक मिसाइल बना रहा सऊदी अरब, अमेरिका की बढ़ी मुश्किलें

सीएनएन के रिपोर्ट्स के अनुसार अमेरिका की खुफिया एजेंसियों का कहना है कि चीन की मदद से सऊदी अरब खुद के लिए बैलेस्टिक मिसाइल पर तेजी से काम कर रहा है। सऊदी अरब चीन से बैलिस्टिक मिसाइल खरीदता रहा है मगर पहली बार इस तरह की रिपोर्ट सामने आई है कि सऊदी अरब बैलिस्टिक मिसाइल बनाने में लगा हुआ है। सीएनएन ने सैटेलाइट तस्वीरों के माध्यम से अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि सऊदी अरब अपने देश में कम से कम एक जगह पर बैलिस्टिक मिसाइल बना रहा है।

क्या चीन ने सऊदी को दी टेक्नोलॉजी?
क्या सऊदी अरब को संवेदनशील बैलिस्टिक मिसाइल टेक्नोलॉजी चीन ने ट्रांसफर किया है? चीनी विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने इस बात का जवाब देते हुए कहा कि सऊदी अरब और चीन व्यापक रणनीतिक साझेदार हैं और सैन्य व्यापार के क्षेत्र समेत सभी क्षेत्रो में महत्वपूर्ण सहयोग बनाए रखा है। उन्होंने अपनी बात में आगे कहा कि चीन का सऊदी अरब को इस तरह का सहयोग करना किसी भी प्रकार के अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन नहीं करता है और इसमें सामूहिक विनाश जैसे हथियारों का प्रसार शामिल नहीं है।

क्या ईरान के परमाणु समझौते पर पड़ेगा असर?
सऊदी अरब के इस फैसले से ईरान के साथ परमाणु समझौते से अमेरिका की दिक्कतें बढ़ सकती हैं। सऊदी अरब और ईरान की दुश्मनी जगजाहिर है। ऐसे में इस बात पर तेहरान कभी सहमत नहीं होगा कि सऊदी द्वारा बैलिस्टिक मिसाइल बनाये जाने पर कोई कार्रवाई न की जाए और ईरान पर प्रतिबंध लगा दिया जाए। एक्सपर्ट्स के अनुसार ईरान के साथ वार्ता की मौजूदा स्थिति को देखते हुए, पहले से ही सऊदी मिसाइल कार्यक्रम जटिल समस्या को और भी मुश्किल बना देगा।


READ ALSO –


Subscribe to our channels on- Facebook & Twitter & LinkedIn


Harbhajan Singh ने किया क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला, ट्वीट कर दी जानकारी

Latest Articles

NewsExpress