बुधवार, सितम्बर 1, 2021

जानिए कितने तरह के होते है योग आसान

एक मजबूत और स्वस्थ शरीर एक अलंकरण की तरह है। यदि आप स्वस्थ हैं, तो आप ठीक से अध्ययन करने और स्वतंत्र रूप से प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम होंगे। यदि आप अस्वस्थ हैं, तो आप उच्च रक्तचाप और मोटापे सहित हृदय रोग में योगदान करने में सक्षम होंगे।

योग शब्द संस्कृत की क्रिया ‘संस्किरी’ से आया है, जिसका अर्थ है ‘सुशोभित करना’। व्यावहारिक स्तर पर, योग हमारी पूरी क्षमता का एहसास करने के लिए आसन, प्राणायाम और ध्यान के माध्यम से शरीर, मन और आत्मा को एकीकृत करने का अभ्यास है।

नियमित योग अभ्यास पूरे शरीर में तनाव और सूजन को कम करने में मदद कर सकता है, जिसके परिणामस्वरूप आपका दिल स्वस्थ रहता है।

योग की कई शैलियों में से कौन सी शैली आपके लिए सबसे अच्छी है, यह तय करते समय, ध्यान रखें कि कोई सही या गलत मुद्रा नहीं होती है।

कुछ बैठने की स्थिति

स्टाफ पोज़ (दंडासन)

पैरों, छाती और कंधों को धीरे-धीरे खोलें जो पोस्टुरल अवेयरनेस को बेहतर बनाने में मदद करता है। यह आपकी रीढ़ को सामान्य स्थिति में बनाए रखने और अधिक लचीला बनाने में मदद करता है।

सीटेड फॉरवर्ड फोल्ड (पश्चिमोत्तानासन)

अपने पीठ को शरीर के साथ-साथ पीठ की मांसपेशियों को भी धीरे-धीरे स्ट्रेच करें जब आप बाजुओं को छत की ओर ऊपर उठाते हैं तो श्रोणि को आगे की ओर घुमाते हुए फोल्ड पैरों को खोलें। यह हमें एक सीधा और लचीला रीढ़ की हड्डी देने में मदद करता है।

हंडरबोल्ट पोज (वज्रासन)

यह एक क्रॉस लेग्ड आसनहै जो जांघों और पैरों की मांसपेशियों को फैलाता है और एक स्वस्थ और आरामदायक रीढ़ की हड्डी के संरेखण को आसान बनाने में मदद करता है।

कुछ खड़े होने की स्थिति

वृक्षासन (वृक्ष मुद्रा)

खड़े रहना एक पसंदीदा स्थिति है। सुनिश्चित करें कि आपकी रीढ़ सीधी है, साथ ही आपके कंधे और सिर भी। अपनी बाहों की मुद्रा बदलें या इसे और अधिक कठिन बनाने के लिए अपनी आँखें बंद करें।

ताड़ासन (पर्वत मुद्रा)

ताड़ासन आपके संतुलन को स्थापित करने का एक उत्कृष्ट तरीका है। इस बात पर ध्यान केंद्रित करके कि आपका वजन आपके पैरों पर कहाँ संतुलित है और अपनी रीढ़ को लंबा करके, आप अपनी मुद्रा में सुधार कर सकते हैं, जिससे आपको बेहतर संतुलन में मदद मिलेगी। जब आप आंखें बंद करके आसन करते हैं, तो आपको और भी अधिक लाभ प्राप्त होंगे।

सूर्य नमस्कार

सूर्य नमस्कार, जिसे अक्सर ‘द अल्टीमेट आसन’ के रूप में जाना जाता है, एक योग मुद्रा है। यह आपकी मांसपेशियों को मजबूत करता है और आपके रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है। हर दिन अपने लिए 10 मिनट का समय निकालना आपके जीवन में बहुत बड़ा बदलाव ला सकता है। 10 मिनट के सूर्य नमस्कार से 139 कैलोरी बर्न होती है, जो स्विमिंग से ज्यादा है। सूर्य नमस्कार का प्रत्येक चरण योग मुद्रा से भिन्न होता है।

Latest Articles

NewsExpress