बुधवार, जनवरी 26, 2022

दक्षिण अफ्रीकी में रहने वाली भारतीय मूल की दो महिलाओं को अंतरराष्ट्रीय सम्मान, जाने क्यों खास है ये पुरुस्कार

दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया शहर में रहने वाली भारतीय मूल की दो युवा महिलाओं ने इस हफ्ते अपने अनुकरणीय नेतृत्वकारी कार्यों के लिए अंतरराष्ट्रीय सम्मान अपने नाम किया है। इनमें एक लड़की 21 वर्षीय सौंदर्य उत्पाद उद्यमी और दूसरी लड़की 30 वर्षीय वास्तुकार हैं। साल 2021 के लिए सौंदर्य उत्पाद उद्यमी राबिया घूर को फोर्ब्स वुमन अफ्रीका ‘यंग अचीवर्स’ पुरस्कार मिला, जबकि वास्तुकार सुमैया वैली को साल 2021 की टाइम्स-100 की लिस्ट में शामिल किया गया। यह सम्मान उन लोगों को मिलता है, जो अपनी नेतृत्वकारी क्षमता की वजह से भविष्य को नया आकार देते हैं।

वर्चुअल फोर्ब्स शिखर सम्मेलन के दौरान राबिया घूर को पुरस्कार की घोषणा की गई। 14 साल की उम्र में ही घूर ने ‘स्विच ब्यूटी की शुरुआत की, जो उनका स्किनकेयर और मेकअप का एक ऑनलाइन ब्यूटी स्टोर है। दो वर्ष बाद स्कूल की पढाई पूरी करके उन्होंने बिज़नेस पर पूरा ध्यान केंद्रित करने के लिए खुद को प्रेरित किया। घूर ने कहा कि “मैंने ब्यूटी ब्रांड बनाने के लिए उत्पाद के उद्गम स्थल, ई-कॉमर्स, पैकेजिंग, फॉर्मूलेशन, विनिर्माण, डिज़ाइन के अपने लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए रिसर्च करना शुरू किया।

लंदन की सर्पेन्टाइन गैलरियों के लिए पैवेलियन के डिजाइन में अपनी अहम भूमिका के लिए टाइम्स-100 की सूची में जगह बनाने वाली वैली सबसे कम उम्र की आर्किटेक्ट बन गईं है। वैली ने पांच वर्ष पहले कंपनी काउंटरस्पेस की स्थापना कुछ दोस्तों के साथ पार्टनरशिप में की थी, जब वह जोहानिसबर्ग यूनिवर्सिटी के ग्रैजुएट स्कूल ऑफ आर्किटेक्चर में पॉपुलर भी थीं। उन्होंने कहा कि हमने इस कंपनी का गठन डिजाइन की एक भाषा को विकसित करने के उद्देश्य से किया था।


READ ALSO –


Subscribe to our channels on- Facebook & Twitter & LinkedIn


अगर मोटापे पर पाना है कंट्रोल, तो अपनी दिनचर्या में जरूर जोड़े यह एक काम

Latest Articles

NewsExpress