गुरूवार, जनवरी 20, 2022

सर्दियों में डायट में शामिल करें यह जूस, दूर हो जाएगी ब्लड क्लॉटिंग और हार्ट की समस्या

इन दिनों लोगों के अनहेल्दी लाइफस्टाइल, स्मोकिंग और तनाव की वजह से हार्ट संबंधी बीमारियां बहुत ज्यादा हो रही हैं। दरअसल धमनियों में थक्के जमने से हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। धमनियों में खून के थक्के जमने से वाहिकाओं का रास्ता संकुचित हो जाता है।

ऐसी स्थिति में ब्लड फ्लो सही से नहीं होता, शरीर में थक्के फटने लगते हैं, जिससे हार्ट अटैक आता है। हालांकि सही खान-पान और लाइफस्टाइल से जमने वाले खून के थक्कों को साफ किया जा सकता है। आपको डाइट में ऐसे जूस शामिल करने चाहिए, जिनसे वाहिकाओं को साफ और ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर किया जा सकता है।

1- अदरक, लहसुन और नींबू रस- अदरक, लहसुन और नींबू का रस हार्ट के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद है। इसे पीने से हार्ट अटैक के खतरा कम होता है। अदरक, लहसुन और नींबू का जूस धमनियां को साफ करता है।इस जूस को पीने से कोलेस्ट्रोल भी कम होता है। ब्लड वेसेल में ब्लॉक भी कम होता है। वहीं अदरक से धमनियों की वॉल्स को मजबूती मिलती है। नींबू में विटामिन सी और फ्लेवनोइड्स जैसे तत्त्व होते हैं जिससे ब्लड वेसेल साफ होती हैं।

2- गाजर और चुकंदर का जूस – गाजर और चुकंदर का जूस पीने से धमनियां साफ होती हैं। चुकंदर से ब्लड प्रेशर भी कम होता है। चुकंदर में नाइट्रेट्स होते हैं जो शरीर में जाकर निट्रिक ऑक्साइड में बदल जाते हैं. निट्रिक ऑक्साइड धमनियां को खोलता है और लचीला बनाता है। वहीं गाजर में नाइट्रेट होता है जिससे ब्लड फ्लो अच्छा होता है। ब्लड वेसेल को खोलने का ये एक अच्छा उपाय है। गाजर में बेटा कैरोटीन होता है जो ब्लड वेसेल को क्लीन करता है। दिल के मरीजों के लिए ये जूस बहुत फायदेमंद है।

3- खट्टे जूस- आपको डाइट में खट्टे फल जरूर शामिल करने चाहिए। इसमें संतरा, नींबू, अंगूर का जूस आप शामिल कर सकते हैं। खट्टे फलों में एंटीऑक्सीडेंट्स गुण होते हैं, जो इंफ्लामेशन को कम करते हैं और ब्लड क्लॉट को कम करते हैं। खट्टे फलों के जूस से हार्ट डिजीज भी कम हो जाती हैं। खट्टे फलों का जूस विटामिन सी से भरपूर होता है जिससे इम्युनिटी मजबूत होती है।

4- खीरा, पुदीना और सेलेरी का जूस- ये जूस भी हार्ट के मरीजों के लिए फायदेमंद है। खीरा में सोलेबल फाइबर होता है जिससे धमनियां साफ होती हैं। खीरा में पोलीफेनोल्स होते हैं जिससे ब्लड वेसेल साफ होते हैं और ब्लड फ्लो अच्छा होता है। वहीं ताजा पुदीने की पत्तियां ब्लड वेसल्स को सिकुड़ने से बचाती हैं। पुदीना से हाई ब्लड प्रेशर भी कम होता है। वहीं सेलेर में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। जिसमें विटामिन ए और विटामिन के होते हैं इससे धमनियों से खराब कोलेस्ट्रोल कम होता है।


READ ALSO –


Subscribe to our channels on- Facebook & Twitter & LinkedIn


फर्जी पासपोर्ट का धंधा कर रहे अमेरिकी डिप्लोमैट को तुर्की ने किया गिरफ्तार, 10000 डॉलर में बेचा पासपोर्ट

Latest Articles

NewsExpress