शनिवार, अक्टूबर 23, 2021

केंद्र सरकार और विपक्ष के आरोपों के बीच, राज्यसभा का सीसीटीवी वीडियो हुआ जारी

संसद का मॉनसून सत्र इस बार विपक्ष के हंगामे की भेंट चढ़ गया और सत्र जितने दिन भी चला कार्यवाही सुचारू रूप से नहीं हो पाई। विपक्ष द्वारा लगातार कृषि कानून, पेगासस जासूसी कांड, बेरोजगारी और महंगाई के मुद्दे को लेकर हंगामा होता रहा।

राज्यसभा में बुधवार, 11 अगस्त को हंगामे की वजह से हालात बदतर हो गए। हंगामे के वजह से ही मॉनसून सत्र को निर्धारित समय से पहले अचानक समाप्त करना पड़ा था।

बता दें कि गुरुवार,12 अगस्त को विपक्षी दलों के सांसदों ने संसद से विजय चौक तक पैदल मार्च निकाला था । विपक्षी नेताओं ने सरकार पर तानाशाही और लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाया था। विपक्ष लगातार आरोप लगा रहा है कि बाहर से मार्शल बुलाकर विपक्षी सांसदों के साथ बदसलूकी की गई, लेकिन अब ANI न्यूज़ एजेंसी द्वारा राज्यसभा का एक सीसीटीवी वीडियो जारी हुआ है और सच्चाई सामने आ गई है।

करीब 2:50 मिनट के इस वीडियो में नारे लगाते हुए सांसद सदन के बीच में आ जाते हैं तब मार्शल जिनके पास संसद की सुरक्षा की जिम्मेदारी होती है , वे उन्हें रोकने का प्रयास करते हैं। इस वीडियो में विपक्ष के सदस्य कागजों के टुकड़े-टुकड़े करके फेंकते नजर आ रहे है। एक सांसद टेबल पर चढ़ते दिख रहे हैं, और वहीं कुछ सदस्य मार्शलों से जूझते दिखाई दे रहे हैं। फुटेज में सांसद लेडी मार्शल से धक्का-मुक्की करते दिख रहे हैं।

हंगामे को देख भावुक हुए थे उपराष्ट्रपति

इस घटना को लेकर राज्यसभा अध्यक्ष और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू भावुक हो गए थे। वेंकैया नायडू ने इस घटना का जिक्र करते हुए कहा था कि कृषि कानूनों का विरोध करते हुए कुछ सांसद मेज पर बैठ गए और अन्य सदस्य सदन की मेज पर चढ़ गए, तब इस राज्य सभा की सारी पवित्रता खत्म हो गई।

Latest Articles

NewsExpress