गुरूवार, अक्टूबर 7, 2021

कुली के बेटे का कमाल, फेल होने के बाद अब बना 2000 करोड़ की कंपनी का मालिक

कभी कभी एक आइडिया ही आपको कामयाबी की बुलंदी तक पहुंचा देता है। एक कामयाब बिजनेसमैन बनने के लिए किसी बिजनेस घराने से होना जरूरी नहीं है, बल्कि जरूरी है अपने बिजनेस आइडिया पर भरोसा करना और उसे अमल में लाना. केरल के मुस्तफा पीसी उन चंद लोगों में से हैं जिन्होंने अर्श से फर्श तक का सफर तय किया है ।

पीसी मुस्तफा एक रेडी टू ईट फूड मैन्यूफैक्चरर फूड कंपनी चलाते हैं। जिसका नाम है ID Fresh Food, जो इडली, डोसा का बैटर बनाती है।

मुस्तफा का जन्म केरल में हुआ। उनके पिता एक कुली थे। मुस्तफा ने कक्षा 6ठी में फेल होने के बाद पढ़ाई छोड़ दी और अपने पिता के साथ खेत में काम करने लगे। ज़ी न्यूज़ के इंटरव्यू में मुस्तफा बताते हैं कि हम रोजाना मुश्किल से 10 रुपये ही कमा पाते थे। जिसमें तीन वक्त का खाना मिलना मुश्किल था। तब मैंने अपने आप से कहा था कि शिक्षा से ज्यादा जरूरी खाना है।

उनके एक टीचर ने उनका दाखिला फिर से स्कूल में करवा दिया और उन्हें पढ़ा-लिखा कर नौकरी लगवाई। मुस्तफा एक नौकरी की बजाय अपना खुद का बिजनेस खोलना चाहते थे। यही सोचकर मुस्तफा ने रेडी टू ईट फूड मैन्यूफैक्चरर के तौर पर ID Fresh Food की शुरुआत की और उनकी ये कंपनी हजारों युवाओं को रोजगार देती है।

मुस्तफा इंटरव्यू में बताते हैं कि शुरु में 50,000 रुपये लगाकर 50 वर्ग फीट के किचन से इसकी शुरुआत की। इस छोटी सी जगह में उन्होंने ग्राइंडर, मिक्सर और तौलने की मशीन लगाई और 100 पैकेट रोज़ बेचने के लिए उन्हें 9 महीने का लंबा समय लगा। पहले 15,000 किलो इडली बनाने के लिए 5000 किलो चावल लगता था। लेकिन अब कंपनी इससे चार गुना मिक्स्चर, सैकड़ों फूड स्टोर्स और मेट्रो शहरों में बेच रही है।

मुस्तफा को देश का ब्रेकफास्ट किंग कहा जाता है। जिनका साल 2015-16 में सालाना टर्नओवर करीब 100 करोड़ रुपये था। जो साल 2017-18 में बढ़कर 182 करोड़ रुपये हो गया। अब साल 2021 में कंपनी का रेवेन्यू 294 करोड़ रुपये पहुंच गया। आज की तारीख में कंपनी की कुल वैल्यू 2000 करोड़ रुपये है।

Latest Articles

NewsExpress