रविवार, नवम्बर 14, 2021

कोरोना के खत्म होते ही दिल्ली सरकार का राजस्व हो रहा है बेहतर

दिल्ली में आर्थिक गतिविधियां शुरू होने के बाद से राजस्व के मामले में दिल्ली सरकार की स्थिति अब सुधार आने की उम्मीद की जा रही है। व्यापार एवं कर विभाग की तरफ से अक्टूबर में सरकार को 2,405 करोड़ का राजस्व मिला है। यह राशि पिछले साल अक्टूबर में मिले राजस्व से 550 करोड़ रुपये अधिक है। दिल्ली सरकार को उम्मीद है कि नवंबर के महीने में हालात में अधिक सुधार आएगी और विकास करने के लिए भी राशि मिल सकेगा।

दिल्ली सरकार ने तकिरीबन 69 हजार करोड़ का बजट वर्ष 2021-22 के लिए रखा है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने और राजस्व एकत्रित करने के लिए विभाग पूरी तरह कोशिश भी कर रहे हैं। मगर बजट के इस लक्ष्य तक पहुंचने के लिए सरकार को खासी मशक्कत करनी पड़ रही है। क्योंकि कोरोना काल में लोगों का कारोबार बुरी तरह प्रभावित हुआ है। अब त्योहारी सीजन में राजस्व बढ़ा है।

सितंबर में भी थी उम्मीद

जुलाई और अगस्त के महीने में जिस तरह से राजस्व बढ़ोतरी हुई थी, उम्मीद की जा रही थी कि सितंबर के महीने में भी राजस्व बढ़ेगा, पर ऐसा नहीं हो सका। अगस्त और सितंबर में लगभग राजस्व बराबर ही रहा। सितंबर को मिला लें तो अप्रैल से अभी तक सरकार को 16,906.68 करोड़ का राजस्व मिला है। इससे पहले अक्टूबर 2020 में 1,855 और अक्टूबर 2019 में 2,079 करोड़ का राजस्व मिला था। इस लिहाज से इस साल भी अक्टूबर में राजस्व बेहतर रहा है। राजस्व के मामले में सरकार का दूसरा सबसे महत्वपूर्ण विभाग आबकारी है। इस विभाग की ओर से भी अब तक सरकार को नौ हजार करोड़ का राजस्व मिला है। हालांकि सरकार इतने राजस्व से स्थिति को अच्छा नहीं मान रही है।

Latest Articles

NewsExpress