गुरूवार, जनवरी 20, 2022

रोजगार को बढ़ावा देने के लिए उत्तर पूर्वी परिषद (एनईसी) द्वारा मेघालय के पूर्वी गारो हिल्स जिले में बागवानी का विकास

उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय की उत्तर पूर्वी परिषद द्वारा मेघालय के पूर्वी गारो हिल्स क्षेत्र के नोकरेक में बागवानी विकसित की गई है। इसका उद्देश्य परियोजना के आसपास के ग्रामीणों और क्षेत्र के लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार सुनिश्चित करना है।

मेघालय के पूर्वी गारो हिल्स जिले के नोकरेक क्षेत्र में उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय की उत्तर पूर्वी परिषद (एनईसी) ने मेघालय राज्य सरकार के बागवानी विभाग के माध्यम से 439.94 लाख रुपये की एक परियोजना का क्रियान्वयन किया है जिसका उद्देश्य ग्रामीणों और आसपास के क्षेत्रों के लोगों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से रोज़गार उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित करना है।

परिषद ने परियोजना पर आने वाली कुल लागत में 44 लाख रुपये का अनुदान भी दिया है। यह परियोजना 4 मार्च, 2020 को पूरी हो गई थी।

परियोजना का उद्देश्य इसके आसपास के क्षेत्रीय और ग्रामीण लोगों को सीधे अथवा परोक्ष रूप में रोज़गार उपलब्ध कराना है। इस परियोजना के अंतर्गत विभिन्न फसलों को उगाने का विकल्प होगा और इससे फसल घनत्व बढ़ेगा, जिसके परिणामस्वरूप भूमि का बेहतर इस्तेमाल हो सकेगा और उत्पादकता बढ़ेगी।

क्षेत्र में हाई-टेक ग्रीन हाउस और ड्रिपइरीगेशन (बूंद-बूंद सिंचाई) की व्यवस्था शुरू की जाएगी। इससे कृषि क्षेत्र में उद्यमिता को बढ़ावा मिलेगा और इससे खेतों तथा बाज़ार के बीच बिचौलियों की संख्या में कमी आएगी। इसलिए, आशा है कि इस परियोजना से किसानों की आमदनी बढ़ाने में सीधे या परोक्ष रूप से मदद मिलेगी।

Latest Articles

NewsExpress