शनिवार, अक्टूबर 23, 2021

आयकर पोर्टल में समस्याओं के समाधान के लिए वित्त मंत्री ने इन्फोसिस को 15 सिंतबर तक का समय दिया

केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों की मंत्री निर्मला सीतारमण ने इंफोसिस के एमडी और सीईओ सलिल पारेख के साथ बैठक की और लॉन्च के ढाई महीने बाद भी आयकर विभाग के ई-फाइलिंग पोर्टल में जारी गड़बड़ियों और सरकार व करदाताओं की गहरी निराशा और चिंताओं से उन्हें अवगत कराया। इससे पहले इसकी लॉन्च में भी देरी हुई थी। सीतारमण ने करदाताओं को बार-बार हो रही इन दिक्कतों के लिए इंफोसिस से स्पष्टीकरण मांगा।

वित्त मंत्रालय ने इस बात पर जोर दिया कि इंफोसिस की ओर से और ज्यादा संसाधन लगाने और प्रयास करने की जरूरत है ताकि जिन सेवाओं पर सहमति बनी थी उनकी आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके जिसमें काफी देरी हुई।

पारेख को करदाताओं को होने वाली कठिनाइयों और पोर्टल के कामकाज में देरी के कारण उत्पन्न होने वाली समस्याओं से भी अवगत कराया गया।

वित्त मंत्री ने मांग की कि इस पोर्टल की वर्तमान कार्यप्रणाली को लेकर करदाता जिन दिक्कतों का सामना कर रहे हैं, उन्हें 15 सितंबर, 2021 तक उनकी टीम द्वारा हल किया जाना चाहिए ताकि करदाता और पेशेवर, इस पोर्टल पर बिना रुकावट काम कर सकें।

पारेख ने स्पष्ट किया कि वे और उनकी टीम इस पोर्टल के सुचारू संचालन को सुनिश्चित करने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं।

इसके अलावा, पारेख ने कहा कि 750 से ज्यादा लोगों की टीम इस परियोजना पर काम कर रही है और इंफोसिस के सीओओ प्रवीण राव निजी तौर पर इस परियोजना की देखरेख कर रहे हैं। पारेख ने ये आश्वासन भी दिया कि इस पोर्टल पर करदाताओं के एक गड़बड़ी मुक्त अनुभव को सुनिश्चित करने के लिए इंफोसिस पूरी तत्परता से काम कर रहा है।

Latest Articles

NewsExpress