शनिवार, अक्टूबर 23, 2021

दिवाली तक चलेगी गरीब कल्याण अन्न योजना, पीएम मोदी बोले: नहीं सोने दिया किसी को भूखा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 अगस्त को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गुजरात में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के लाभार्थियों से बातचीत की। इस कार्यक्रम में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी भी मौजूद रहे। बता दें कि केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी द्वारा गरीबों को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को 26 मार्च 2020 को शुरू किया था।

पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के एक लाभार्थी से बात करते हुए कहा कि सरकार नागरिकों को हर संभव सहायता प्रदान करने का प्रयास कर रही है। लाभार्थियों तक योजना पहुंच रही है। मैं संतुष्ट हूं कि आपके परिवार की राशन समस्या अब हल हो गई है।

पीएम ने कहा कि आज़ादी के बाद से ही करीब-करीब हर सरकार ने गरीबों को सस्ता भोजन देने की बात कही थी। सस्ते राशन की योजनाओं का दायरा और बजट साल दर साल बढ़ता गया, लेकिन उसका जो प्रभाव होना चाहिए था, वो सीमित ही रहा। इसका एक बड़ा कारण था- प्रभावी डिलिवरी सिस्टम का ना होना।

आज 2 रु. किलो गेहूं, 3 रु. किलो चावल के कोटे के अतिरिक्त हर लाभार्थी को 5 किलो गेहूं और चावल मुफ्त दिया जा रहा है। यानि इस योजना से पहले की तुलना में राशनकार्डधारियों को लगभग डबल मात्रा में राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। ये योजना दिवाली तक चलने वाली है।

गुजरात सरकार ने हमारी बहनों, हमारे किसानों, हमारे गरीब परिवारों के हित में हर योजना को सेवाभाव के साथ ज़मीन पर उतारा है। आज गुजरात के लाखों परिवारों को पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत एक साथ मुफ्त राशन वितरित किया जा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि आज दुनियाभर में पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना की प्रशंसा हो रही है। बड़े-बड़े एक्सपर्ट इस बात की तारीफ कर रहे हैं कि भारत अपने 80 करोड़ से अधिक लोगों को इस महामारी के दौरान मुफ्त अनाज उपलब्ध करा रहा है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना क्या है?

पीएम मोदी द्वारा इस योजना की शुरुआत कोविड-19 के आर्थिक प्रभाव को कम करने में सहायता प्रदान करने के लिए की गई थी। इसके अंतर्गत नेशनल फूड सिक्योरिटी एक्ट के तहत आने वाले सभी लाभार्थियों को पांच किलो अनाज (गेहूं या चावल) निःशुल्क बांटा जाता है। कोरोनाकाल को देखते हुए केंद्र सरकार ने हाल ही में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को नवंबर 2021 तक के लिए बढ़ा दिया है।

Latest Articles

NewsExpress