रविवार, नवम्बर 14, 2021

Health Tips : नींद की कमी से हैं परेशान? अपनाएं ये नुस्खे, जल्द दिखेगा असर

हम सभी को कभी न कभी नींद न आने की समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे में नींद की कमी के कारण स्वास्थ्य प्रभावित होने लगता है जिसे क्रॉनिक समस्या कहते हैं। नींद न आने के पीछे की मुख्य वजह में से तनाव, चिंता और ख़राब लाइफस्टाइल जैसी कई चीज शामिल हैं। कई बार लोग पर्याप्त नींद के लिए हानिकारक दवाओं का सेवन करते हैं, जिससे कई साइड इफेक्ट दिखने को मिलते हैं।

लेकिन आप चाहें, तो आयुर्वेद की सहायता से आसानी से घर बैठे ही इस परेशानी से निजात पा सकते हैं। आयुर्वेद के इन 4 नुस्खों अपनाकर को सोने की बीमारी को दूर कर सकते हैं। इसको रात को सोने से पहले सेवन करने से अच्छी नींद के साथ-साथ अगली सुबह तरोताजा महसूस करने में आपको मदद मिल सकती है।

1. गहरी सांस लें

यदि आप योग से भी कुछ आसान उपाय खोज रहे हैं तो ऐसे में ओम के जाप के साथ गहरी सांस लेने का अभ्यास करें। इसके लिए आपको ओम का जप के साथ सांस अंदर लेनी है और नाक और मुंह दोनों से सांस बाहर छोड़नी है। बता दें कि ओम शब्द के जाप से मन पर बहुत अच्छा असर पड़ता है और यह आपको जल्द सोने में मदद कर सकता है। ओम का जाप करते वक्त लगातार दो उच्चारणों के बीच में मौन धारण करें।

2. ​पैर धोकर सोए।

प्राचीन काल में लोग जब भी दिनभर के बाद घर वापस लौटते थे, तो आपने पैरो को धोते थे, क्योंकि पैर धोने से शरीर को हल्का महसूस होता है, साथ ही स्ट्रेस के लेवल में भी कमी आती है। आयुर्वेदिक एक्सपर्ट्स की माने तो पैर धोने से नकारात्मकता दूर होती है और आप खुद को हल्का महसूस करते हैं। इसलिए हर दिन आप अपने पैर अच्छे से साफ करें ताकि अच्छी नींद आए।

3. ​प्राणायाम करें

प्राणायाम करने से हमारा मतलब धीमी गति से सांस लेने के योग से है। इसमें आपको अपनी सांस पर ध्यान एकत्रित करना और पूरे शरीर में ऊर्जा को बहाव करना होता है। सोने से पहले प्राणायाम करने से रक्त संचार में सुधार और शरीर में आक्सीजन की बढ़ाने में सहायता मिल सकती है। इतना ही नहीं यह आपके दिमाग को शांत करने और जल्दी सोने में सहायता करता है।अनुलोम-विलोम और भ्रामरी प्राणायाम करने से भी फायदा होता है। यह अन्य प्रणायाम की तुलना में ज्यादा लाभकारी है।

4. ​अभ्यंग करें

अभ्यंग आयुर्वेदिक उपचार का एक रूप है, जिसमें गर्म जड़ी-बूटियों के तेल से शरीर का मसाज किया जाता है। अगर आपके लिए पूरे बॉडी की मालिश करना संभव नहीं है, तो रात में सोने से पहले स्ट्रेस पॉइंट्स का मसाज करने से बहुत लाभ होगा। अपने सर और कंधों पर थोड़ा गर्म तिल के तेल को लगाएं और अपने मसल्स को आराम देने और शांति से सोने के लिए उनकी ठीक से मसाज करें।

Latest Articles

NewsExpress