रविवार, अक्टूबर 3, 2021

सिद्धू के ईंट से ईंट बजाने केे बयान पर हाईकमान गंभीर, रावत बाेले-बात करूंगा

पंजाब कांग्रेस की खींचतान पार्टी के अधिकारियो के लिए बड़ी समस्या बन गई है। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकारों के बयानों के बाद अब खुद सिद्धू के बयान ने मुश्किले खड़ी कर दी है। सिद्धू के ,आंखें दिखाने और उनके ईंट से ईंट बजाने वाले बयान पर हाईकमान गंभीर हो गया है।

पंजाब कांग्रेस के अधिकारी हरीश रावत ने कहा है कि इस बारे में सिद्धू से बात की जाएगी। सिद्धू के इस तरह के बयान सही नहीं हैं।इससे पहले रावत ने सोनिया गांधी से मुलाकात की और उनको पंजाब कांग्रेस की हालत के बारे में जानकारी दी। सिद्धू ने कहा है कि ‘यदि अधिकार न मिले तो ईंट से ईंट बजा दूंगा।’

सिद्धू के ईंट से ईंट बजाने वाले बयान को पार्टी हाईकमान ने संजीदगी से लिया है। हरीश रावत ने कहा है कि वह मीडिया रिपोर्ट के हवाले से तो कुछ नहीं कहेंगे, लेकिन सिद्धू से यह बात जरूर करेंगे कि उन्होंने यह बयान किस बारे में दिया है।उन्होंने दैनिक जागरण को बताया कि सिद्धू का यह कहना सही नहीं है कि उन्हें फैसले लेने से रोका हुआ है। अगर प्रधान के पास हक नहीं हैं तो किसके पास हैं। सिद्धू के सलाहकार ने स्पष्ट कर दिया है कि वह बयान उनके निजी हैं और यह सलाहकार के तौर पर नहीं दिया है। सलाहकार का जम्मू-कश्मीर संबंधी दिया गया बयान कांग्रेस को मंजूर नहीं।यह बेहद ही गंभीर मामला है।

रावत ने यह भी कहा कि उन्हें कैप्टन अमरिंदर सिंह से नाराज चार मंत्री और दो विधायक मिले थे। उनकी ज्यादातर मांगें मै सुलझा दूंगा, जो सोनिया गांधी के स्तर पर होंगी वह उनके सामने रखूंगा। उन्होंने कहा कि चूंकि पंजाब में चुनाव नजदीक हैं इसलिए इस तरह की हलचल ज्यादा है।

सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद हरीश रावत ने कहा कि मैंने उनको बता दिया है कि पूरी पार्टी उनके निदेर्शों को मानेगी। पंजाब कांग्रस में कुछ परेशानी है, लेकिन उसका समाधान करने की कोशिश कर रहे हैं। स्थिति अभी नियंत्रण में है।

Latest Articles

NewsExpress