शनिवार, नवम्बर 13, 2021

भारत-अमेरिका ने एल्मेंडोर्फ रिचर्डसन, अलास्का (अमेरिका) के संयुक्त बेस पर प्रशिक्षण अभ्यास “पूर्व युद्ध अभ्यास” का शुभारंभ किया

भारत-अमरीका ने अमरीका के अलास्का में स्थित संयुक्त बेस एल्मेंडॉर्फ रिचर्डसन में एक उद्घाटन समारोह के साथ 15 अक्‍तूबर, 2021 को संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास के 17वें संस्करण “पूर्व युद्ध अभ्‍यास-21” का शुभारंभ किया। इस अवसर पर दोनों देशों के राष्ट्रगान, “जन गण मन” और “द स्टार स्पैंगल्ड बैनर” को बजाने के साथ-साथ राष्ट्रीय ध्वज फहराए गए।

इस अभ्यास में 40वीं कैवलरी रेजिमेंट के फर्स्ट स्क्वाड्रन (एयरबोर्न) के 300 अमेरिकी सैनिक और भारतीय सेना के 7 मद्रास इन्फैंट्री बटालियन ग्रुप के 350 सैनिक भाग ले रहे हैं। 14 दिनों के इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत विद्रोह/आतंकवाद के खिलाफ अभियान के रूप में संयुक्त प्रशिक्षण जैसी गतिविधियाँ शामिल हैं।

उद्घाटन समारोह के दौरान, अमेरिकी सेना में अलास्का के कमांडर मेजर जनरल ब्रायन आइफलर ने औपचारिक रूप से भारतीय दल का स्वागत किया। उन्होंने दोनों टुकड़ियों से अभ्यास के प्रशिक्षण उद्देश्यों को सफलतापूर्वक पूरा करने लिए सामंजस्य और अंतर-संचालन में सुधार पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया। उन्होंने दोनों देशों के सैनिकों के बीच विचारों, अवधारणाओं और सर्वोत्तम कार्यप्रणालियों के मुक्त आदान-प्रदान और एक-दूसरे के अनुभवों से सीखने की आवश्यकता पर जोर दिया।

संयुक्त अभ्यास से दोनों सेनाओं को एक-दूसरे को बेहतर तरीके से जानने, अपने व्यापक अनुभव साझा करने और सूचना के आदान-प्रदान के माध्यम से स्थिति के अनुसार जागरूकता बढ़ाने में सुविधा होगी। इससे उन्हें संयुक्त राष्ट्र के कार्यक्षेत्र के अंतर्गत शीतकालीन जलवायु परिस्थितियों जैसे पहाड़ी इलाकों में बटालियन स्तर पर संयुक्त अभियान चलाने में भी मदद मिलेगी।

Latest Articles

NewsExpress