शनिवार, अक्टूबर 23, 2021

आरजेडी के स्थापना दिवस के समारोह में शिरकत से पहले लालू यादव का इंटरव्यू : जानिए क्या कहा अपने आगे की राजनीतिक करियर के बारे में

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल आज अपना 25वां स्थापना दिवस है और इसे इस साल बेहद ही खास अंदाज में मना रही है। पार्टी के लिए आज का दिन बेहद ही खास होने का कारण आरजेडी के संस्थापक लालू यादव है जो अब जेल से बाहर आ गए। आज इस मौके पर कई सालों बाद लालू यादव कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। लालू यादव जेल से आने के बाद पहली बार मीडिया को इंटरव्यू दिया है। जिसमें उन्होंने पार्टी के भविष्य और साल 2024 के लोकसभा चुनावों की रणनीतियों और तैयारियों पर अपनी बात रखी।

हिंदी अखबार दैनिक भास्कर को दे रहे इंटरव्यू में जब लालू यादव से पूछा गया कि वह राजनीति में फिर सक्रिय होंगे? तो उन्होंने बताया है कि ‘एक नेता राजनीति से कभी रिटायर नहीं होता। मेरी राजनीति खेत खलिहानों से लेकर सामाजिक न्याय और आखिरी पायदान पर खड़े लोगों को उठाने की रही है। हम गरीबों के हक की लड़ाई के लिए पैदा हुए हैं।’

2024 में मोदी के खिलाफ चेहरा कौन होगा?

इस सवाल के जवाब में लालू यादव ने कहा, ‘’गांठ बांध लीजिए, जो भी चेहरा होगा, वह तानाशाही, अहंकार और आत्म मुग्धता से कोसों दूर होगा। पिछले 6 साल के शासन से यह तो तय हो गया है कि आत्म केंद्रित और व्यक्ति केंद्रित शासन लोकतंत्र की जड़ों को कभी मजबूत नहीं कर सकता।’’

क्या लालू और नितीश को दोबारा साथ देखा जा सकता है ?

इस पर जवाब देते हुए लालू यादव ने कहा, ‘’यह एक काल्पनिक सवाल है। साल 2015 में हमने नीतिश के साथ तमाम अंतर्विरोधो को दरकिनार करके महागठबंधन की जीत सुनिश्तित की थी। लेकिन नीतीश ने पौने दो साल बाद ही उस अभूतपूर्व जनादेश के साथ क्या किया, इसका गवाब पूरा देश है। राजनीति में सिद्धांत, विचार, नीति, नियति और रीढ़ का महत्व नीतीश खो चुके हैं।’’

Latest Articles

NewsExpress