शुक्रवार, नवम्बर 26, 2021

अफगान के इस महिला को इटली ने दी पनाह, पाकिस्तान में पहले हो चुकी है गिरफ्तार

1984 में अमेरिकी वॉर फोटोग्राफर स्टीव मैककरी ने एक अफगान शरणार्थी लड़की शरबत गुल्ला की तस्वीर ली थी। यह तस्वीर नेशनल ज्योग्राफिक के कवर पर छापी गई थी और वायरल हो गई थी। सालों से चल रहे अफगान युद्ध का यह तस्वीर प्रतीक बन गई थी। अब इटली सरकार ने शरबत को लेकर यह जानकारी दी है कि अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद हरी आंखों वाली फेमस अफगान गर्ल इटली पहुंच गई है।

इटली सरकार ने कहा है कि शरबत ने अगस्त 2021 में काबुल पर तालिबान के कब्जे के बाद अफगानिस्तान छोड़ने के लिए मदद मांगी, जिसके बाद इटली की सरकार ने उनकी मदद की। सरकार ने कहा कि हम पहले से ही अफगान लोगों को सुरक्षित निकाल रहे थे। शरबत भी इसी कड़ी का हिस्सा थी हम शरबत का जीवन आसान करने की कोशिश करेंगे।

जब पाकिस्तान ने किया था गिरफ्तार
रिपोर्ट्स के अनुसार 2002 में मैककरी ने शरबत से फिर से मुलाकात की। FBI के एक एनालिस्ट ने इस बात की पुष्टि की थी। शरबत 2016 में पाकिस्तान में रहने की कोशिश कर रही थी। लेकिन उसे नकली पाकिस्तानी नेशनल आइडेंटिटी कार्ड बनाने की वजह से गिरफ्तार कर लिया गया।

इसके बाद तत्कालीन अफगान राष्ट्रपति अशरफ गनी ने शरबत का अफगानिस्तान में स्वागत किया और उसे एक अपार्टमेंट देने का वादा किया। उन्होंने कहा था कि शरबत गरिमा और सुरक्षा के साथ अफगानिस्तान में रह सकती हैं। लेकिन एक बार फिर से अगस्त 2021 में अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्ज़ा हो गया जिसमें महिलाओं को अधिकारों से वंचित रखा गया है।

Latest Articles

NewsExpress