सोमवार, अक्टूबर 25, 2021

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर महाराष्ट्र सरकार की चेतावनी, सीएम ठाकरे बोले- बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सोमवार को आपदा प्रबंधन की बैठक में हिस्सा लिया। इस बैठक में मुख्यमंत्री ने सभी सभी तरह के सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक सभाओं और बैठकों को रद्द करने का निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि पर्व तो हम बाद में भी मना सकते हैं, नागरिकों की जिंदगी और स्वास्थ्य हमारी पहली प्राथमिकता है। देश में अगले दो महीने तक त्योहारी सीजन है और इस दौरान कोरोना की तीसरी लहर का खतरा भी बना हुआ है। उन्होंने कहा कि कौन पर्व मनाने और धार्मिक कार्यक्रमों पर रोक लगाना चाहेगा, लेकिन यह लोगों के जीवन से बढ़कर नहीं हैं।

सीएम ने कहा कि अगर नियमों का पालन हो तो प्रतिबंध नहीं लगेगा। अगर सभी ने मास्क पहनना, दूरी बनाना और सभाओं से बचना इन सब कोविड -19 मानदंडों का पालन किया तो नए प्रतिबंध लगाने की आवश्यकता नहीं होगी।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि तीसरी लहर दरवाजे पर खड़ी है और हमारी लापरवाही बड़े संकट को बुलावा दे सकती है। केरल में रोजाना 30 हजार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। यह खतरनाक संकेत हैं और अगर हमने इसे गंभीरता से नहीं लिया तो महाराष्ट्र को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी।

बता दें कि आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार महाराष्ट्र में रविवार को कोविड-19 के 4,057 नए मामले सामने आने के साथ ही कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 64,86,174 हो गयी जबकि 67 और मरीजों की मौत के बाद राज्य में कोरोना वायरस से जान गंवाने वालों की संख्या 1,37,774 हो गयी है।

Latest Articles

NewsExpress