शुक्रवार, नवम्बर 26, 2021

मायावती ने संविधान दिवस के मौके पर केंद्र सरकार से की आरक्षण की मांग, जानिए क्या हैं पूरी खबर

आज शुक्रवार को बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने संविधान दिवस के मौके पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए उन्होंने केन्द्र और राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा और कुछ मांगे भी सामने रखी।

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने कहा कि देश में आज संविधान का पालन नहीं किया जा रहा है। साथ ही तंज कसते हुए यह भी कहा कि ऐसी सरकारों को संविधान दिवस मनाने का कोई अधिकार नहीं है, जो संविधान का पालन न कर रहा हो। बीएसपी सुप्रीमो ने दलित और आदिवासी समाज की ओर रोशनी डालते हुए कहा कि वह लोग आज भी वंचित है।

बीएसपी चीफ मायावती ने आगे यह भी कहा कि संविधान दिवस के मौके पर आज किसान आंदोलन का भी एक वर्ष पूरा हो गया है। केन्द्र सरकार ने तीन कृषि कानूनों को तो वापस लिया है, जो उचित है लेकिन केन्द्र सरकार को अन्य मांगों को भी मान लेनी चाहिए।

आज मेरा यही कहना है कि केन्द्र और सभी राज्य सरकारें इस बात की समीक्षा करें कि वे संविधान का सही से पालन कर रही है। मायावती ने कहा कि उनकी पार्टी का यह मानना है कि ठीक से पालन नहीं किया जा रहा है। इसी वजह से उनका पार्टी इस कार्यक्रम में नहीं शामिल होने का फैसला किया गया है।

Latest Articles

NewsExpress