रविवार, अक्टूबर 3, 2021

यूपी चुनाव से पहले मायावती का बड़ा दांव, बसपा करेगी ब्राह्मण सम्मेलन

यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव में बीएसपी प्रदेश भर में ब्राह्मण वोटरों को अपने कब्ज़े में करने के लिए सम्मेलन का आयोजन कराएगी। राष्ट्रीय महासचिंव के नेतृत्व में पहले चरण का सम्मेलन 23 जुलाई से शुरू होकर 29 जुलाई तक चलेगा।

उत्तर प्रदेश में आनेवाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में सभी राजनीतिक दलों की नज़रें राज्य के ब्राह्मण वोटरों पर टिकी हैं और मायावती ने भी अपनी नज़रे टिका ली हैं। बीएसपी अलग-अलग जिलों में विधानसभा चुनाव से पहले ब्राह्मण सम्मेलन करने जा रही है।

अयोध्या से 23 जुलाई को इसकी शुरुआत होगी जो 29 जुलाई तक 6 राज्यों में चलेगा। 23 जुलाई को बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र अयोध्या पहुंचकर राम जन्मभूमि का दर्शन करेंगे और वे वही से इस सम्मेलन की शुरुआत करेंगे।
सूत्रों के मुताबिक, पहले चरण में ब्राह्मण सम्मेलन के लिए यूपी के 5 जिलों में एक साथ शुरू किया जाएगा। मायावती ने इस पूरे कार्यक्रम की ज़िम्मेदारी सतीशचंद्र मिश्र के हाथों में सौंपी है।

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने साल 2007 में विधानसभा चुनाव में इसी प्रकार से ब्राह्मण वोटरों को अपनी तरफ़ मिलाने का काम किया था। अब साल 2022 के चुनाव से पहले साल 2007 की तरह ही काम किया जाएगा।

साल 2007 में मायावती की, ब्राह्मणों को टिकट देकर, चुनावी मैदान में उतारने की रणनीति सफल हुई थी । जिसका परिणाम यह निकला कि बीएसपी को यूपी की 403 सीटों में 206 सीटों पर जीत हासिल हुई। अब बीएसपी साल 2022 में ब्राह्मण सम्मेलन के सहारे दुबारा सत्ता में आने की पूरी तैयारी कर चुकी हैं।

Latest Articles

NewsExpress