शनिवार, अक्टूबर 23, 2021

ओलंपिक में पुरुष हॉकी टीम ने रचा इतिहास, पीएम मोदी ने दी बधाई

टोक्यो में जारी ओलंपिक खेलों में भारतीय हॉकी टीम ने 41 साल बाद कांस्य जीतकर इतिहास रच दिया है। मनप्रीत सिंह की टीम ने गुरुवार, 5 अगस्त के रोमांचक मुकाबले में जर्मनी को 5-4 से हराकर कांस्य पदक जीता है।

यह भारतीय पक्ष द्वारा जोरदार वापसी थी क्योंकि एक समय भारतीय टीम मुकाबले में 1-3 से पीछे थी, लेकिन भारत ने दूसरे क्वार्टर में मुकाबले को 3-3 की बराबरी पर ले आया और तीसरे क्वार्टर में भारत ने इस बढ़त को 5-3 करके कांस्य को अपने नाम कर लिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर भारतीय पुरुष हॉकी टीम को बधाई दी है। पीएम ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘ ऐतिहासिक! एक ऐसा दिन जो हर भारतीय की याद में अंकित होगा। कांस्य पदक जीतने के लिए हमारी पुरुष हॉकी टीम को बधाई। भारत को अपनी हॉकी टीम पर गर्व है।’

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी भारतीय टीम को जीत की बधाई दी है। राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, ‘हमारी पुरुष हॉकी टीम को 41 साल बाद हॉकी में ओलंपिक पदक जीतने के लिए बधाई। ये ऐतिहासिक जीत हॉकी में एक नए युग की शुरुआत करेगी और युवाओं को खेल में आगे बढ़ने और उत्कृष्टता के लिए प्रेरित करेगा।’

गृहमंत्री अमित शाह ने टोक्यो ओलिंपिक में भारतीय हॉकी टीम को मिली एतिहासिक जीत पर बधाई देते हुए कहा, ‘प्रत्येक भारतीय के लिए बेहद गर्व और खुशी का क्षण है कि हमारी पुरुष हॉकी टीम ने #Tokyo2020 में कांस्य पदक जीता है। आपने पूरे देश को गौरवान्वित किया है।’

आखिरी बार साल 1980 में जीता था पदक

आखिरी बार भारत ने साल 1980 के मॉस्को ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीता था। अगर कांस्य पदक की बात करे तो भारत ने साल 1972 के म्यूनिख ओलंपिक में नीदरलैंड्स को हराकर यह पदक अपने नाम किया था।

बता दें कि टोक्यो में भारत का यह चौथा पदक है। भारत हॉकी के अलावा वेटलिफ्टिंग, बैडमिंटन और मुक्केबाजी में पदक जीत चुका है।

Latest Articles

NewsExpress