महाराष्ट्र के जलगाँव से एक शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। यहाँ पर पुलिस के जवानों ने छात्रों से सहयोग न करने के जुर्म में उनके कपडे उतरवाकर उनसे डांस करवाया। महाराष्ट्र पुलिस की इस करतूत के बाद भारतीय जनता पार्टी ने अपने हमले तेज कर दिए हैं। बुधवार को इस घटना के बारे में महाराष्ट्र विधानसभा को बताया गया। समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, विपक्षी बीजेपी की तरफ से उठाई गई इस घटना पर संज्ञान लेते हुए राज्य की महाविकास अघाड़ी सरकार ने निश्चित समय-सीमा के भीतर जांच कराने की घोषणा की है।

भाजपा का हमला

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के नेता देवेंद्र फडणवीस ने इस घटना को शर्मनाक बताते हुए कहा कि यह शर्मनाक घटना है। एक वीडियो क्लिप में यह दिख रहा है कि पुलिसवाले लड़कियों के कपड़े उतरवा रहे हैं। इसकी विस्तृत जांच की जाना चाहिए. हमें इस मामले को संवेदनशील तरीके से देखना चाहिए। इसके साथ ही, विधानसभा के कुछ सदस्यों ने महाविकास अघाड़ी सरकार को बर्खास्त करने की मांग की तो वहीं अन्य ने सदन में शर्म-शर्म के नारे लगाए।

गृह मंत्री ने दिया जांच का आदेश

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने इसे लेकर बयान जारी किया है। उन्होंने कहा है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। हमने चार सदस्यीय कमेटी बनाई है जो इस घटना की जांच कर 48 घंटे में रिपोर्ट सौंपेगी। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद नियमों के मुताबिक आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। राज्य की महिला एवं बाल विकास मंत्री यशोमती ठाकुर ने कहा- सभी साक्ष्यों को इकट्ठा किया जाएगा और उसकी जांच की जाएगी. इसके साथ ही, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here