बुधवार, जनवरी 26, 2022

भारतीय संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए प्रसार भारती और आईसीसीआर ने एमओयू पर किया हस्ताक्षर

प्रसार भारती और भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद ने भारतीय संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए आज एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) से जुड़े प्रख्यात कलाकारों के कार्यक्रम दूरदर्शन के राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय चैनलों पर प्रसारित किए जायेंगे। नृत्य और संगीत के कार्यक्रम डीडी नेशनल, डीडी इंडिया, दूरदर्शन के क्षेत्रीय चैनलों और प्रसार भारती समाचार सेवाओं (प्रसार भारती का डिजिटल प्लेटफॉर्म) पर साप्ताहिक कार्यक्रम के रूप में प्रदर्शित किए जायेंगे।

इस समझौता ज्ञापन का उद्देश्य भारतीय संस्कृति के सर्वश्रेष्ठ पहलुओं को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय दर्शकों के सामने लाना और अपनी कला का प्रदर्शन करने वाले कलाकारों को टीवी और डिजिटल मंच प्रदान करना है।

दूरदर्शन भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) के सहयोग से परिषद द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों/संगीत समारोहों/संगीत/नृत्य के प्रदर्शनों पर आधारित आधे घंटे की अवधि वाली 52 कड़ियों (एपिसोड) का निर्माण करेगा।

प्रसार भारती के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) श्री शशि शेखर वेम्पति, प्रसार भारती के सदस्य (वित्त) डी.पी.एस नेगी और प्रसार भारती एवं भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में दूरदर्शन के महानिदेशक मयंक कुमार अग्रवाल और भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) के महानिदेशक दिनेश के. पटनायक ने इस समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

यह समझौता ज्ञापन दिसंबर 2021 से लेकर दिसंबर 2024 तक तीन साल की अवधि के लिए लागू रहेगा।

Latest Articles

NewsExpress