मंगलवार, नवम्बर 23, 2021

अजय मिश्रा के खिलाफ राकेश टिकैत ने किए तीखे वार, बोले- “आंदोलन करेंगे…”

बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने के बाद अब केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ की गिरफ्तारी पर को लेकर सियासत गरमाई हुई है। पिछले एक साल से किसान आंदोलन को लेकर आए दिन किसानों और नेताओं के बीच आरोप-प्रतारोप का दौर देखने को मिल रहा है। इसी सब को लेकर आज भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने बड़ा ऐलान किया है।

राकेश टिकैत ने अजय मिश्रा का विरोध करते हुए कहा है कि अगर लखीमपुर में चीनी मिल के उद्घाटन में ‘टेनी’ पहुंचते हैं तो आंदोलन किया जाएगा। आपको बता दें कि लखीमपुर में एक चीनी मिल का उद्घाटन होना है जिसमें केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होंगे।

इसी चीनी मिल के प्रस्तावित उद्घाटन का जिक्र करते हुए राकेश टिकैत ने कहा, ”अगर टेनी (अजय मिश्रा) चीनी मिल का उद्घाटन करने आते हैं, तो उस चीनी मिल में कोई गन्ना नहीं ले जाया जाएगा। बल्कि किसान गन्ना जिलाधिकारी के कार्यालय ले जायेंगे, चाहे उन्हें कितना भी नुकसान हो।”

दरअसल इससे पहले सोमवार को लखनऊ के इको-गार्डन में आयोजित किसान महापंचायत को संबोधित भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ को लखीमपुर खीरी हिंसा में चार किसानों की मौत के मामले में गिरफ्तार करने की मांग की थी और उनकी तुलना एक “आतंकवादी” से की थी।

लखनऊ के इको-गार्डन में आयोजित किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए राकेश टिकैत ने कहा, ”अगर कश्मीर के आतंकवादियों को आगरा जेल में बंद किया जा सकता है, तो किसानों का हत्यारा भी आतंकवादी है और उसे भी आगरा जेल जाना चाहिए।”

इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि, ”टेनी की गिरफ्तारी हमारे मुख्य मुद्दों में से एक है।” उन्होंने यह भी बताया कि दिसंबर के बाद वह तीन दिन लखीमपुर खीरी में रहेंगे, तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए लोगों के परिवारों से मिलेंगे और उन किसानों से भी मिलेंगे जो जेल में बंद हैं।

Latest Articles

NewsExpress