प्रशासन के फैसले प्रशासन लेगा तोलाबाज नहीं। सरकार के फैसले सरकार करेगी तोलाबाज नहीं। पुलिस के फैसले पुलिस करेगी तोलाबाज नहीं। इस बार बैसाख की आंधी दीदी की सरकार और टीएमसी के तोलाबाज को उखाड़ फेंकेगी। यह हमला प्रधानमंत्री मोदी का अपने चुनावी रैली में ममता बनर्जी था।

दरअसल, एक ओर जहां चौथे चरण का मतदान हो रहा था, वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री मोदी कृष्णानगर में अपनी चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे उस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ‘दीदी केंद्रीय वाहिनी को गाली दे रही है, चुनाव आयोग को गाली दे रही है, ईवीएम को गाली दे रही है, अब हालात तो यह हो गए हैं कि आज वह अपने ही पोलिंग एजेंट्स को गाली देने लगी।

उन्होंने आगे कहा कि दीदी को क्या पता नहीं है कि जनता जनार्दन ईश्वर का रूप होते हैं, इनके सामने आज तक किसी का अहंकार नहीं टिका है, तो उनकी भी नहीं रहेगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने इस भाषण में जातियों के निचले तबके को अपनी तरफ आकर्षित करने की भी कोशिश की। उन्होंने कहा कि दीदी के साथी अनुसूचित जाति के लोगों को गाली दे रहे हैं। दीदी बीजेपी को सत्ता में आते देख हताश हो गई है वह बंगाल की मतदाता को बदनाम करने की कोशिश कर रही हैं। चुनाव में अपनी हार देख दीदी अब अपने पुराने खेल पर उतर आई है।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने चिरपरिचित अंदाज में दीदी को संबोधित करते हुए कहा, “आदरणीय दीदी” याद रखिए यह 2021 का बंगाल है यहाँ की जनता आपको लोकतंत्र से खिलवाड़ नहीं करने देगी। आप जितना जनता को डराने की कोशिश कर रही है उतना ही यहां के मतदाता आपको हराने के लिए एकजुट हो रहे है।

अपनी सभा में आई भीड़ को देख प्रधानमंत्री मोदी गदगद थे। वह ममता बनर्जी का ध्यान अपनी सभा में भीड़ की ओर आकर्षित करने के लिए कहा, “आदरणीय दीदी” यह दृश्य देखिए यहां भाजपा चुनाव नहीं लड़ रही है, बल्कि पूरे बंगाल की जनता चुनाव लड़ रही है।

By: Sumit Anand


ये भी पढ़े –चुनाव के लिए कोरोना का मिला NOC?


Subscribe to our channels on- Facebook & Twitter & LinkedIn


कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here