शुक्रवार, नवम्बर 12, 2021

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने राष्ट्रीय निर्यात बीमा खाता (एनईआईए) योजना को जारी रखने और 5 वर्ष से ज्यादा समय के लिए 1,650 करोड़ रुपये के सहायता अनुदान को मंजूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सार्वजनिक क्षेत्र की कर्ज बीमा प्रदाता ईसीजीसी लि. में 4,400 करोड़ रुपये की पूंजी डालने और आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिये इसे शेयर बाजार में सूचीबद्ध कराने की मंजूरी दी।

सरकार ने राष्ट्रीय निर्यात बीमा खाता (एनईआईए) योजना जारी रखने और पांच साल में सहायता अनुदान के रूप में 1,650 करोड़ रुपये लगाये जाने को भी मंजूरी दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) की बैठक में किये गये निर्णय की जानकारी देते हुए वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने संवाददाताओं से कहा कि सरकार ने निर्यात क्षेत्र को मजबूती प्रदान करने के लिये कई कदम उठाये हैं।

उन्होंने कहा कि इसके तहत अगले पांच साल में (2021-22 से 2025-26) ईसीजीसी लि. (पूर्व में भारतीय निर्यात ऋण गारंटी निगम लि.) में 4,400 करोड़ रुपये पूंजी डाली जाएगी।

मंत्री ने यह भी कहा कि चालू वित्त वर्ष में 21 सितंबर, 2021 तक निर्यात 185 अरब डॉलर का रहा और वित्त वर्ष की पहली छमाही में 190 अरब डॉलर पहुंच सकता है।

ईसीजीसी में पूंजी डाले जाने के साथ आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिये सूचीबद्ध होने से कंपनी की जोखिम उठाने की क्षमता बढ़ेगी।

Latest Articles

NewsExpress