गुरूवार, अक्टूबर 28, 2021

अफगानिस्तान में 31 अगस्त के नहीं होगा अमेरिका सेना का सैन्य ऑपरेशन, अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन को अफगान मिलिट्री पर है भरोसा

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अफगानिस्तान में तैनात अमेरिकी सेना को लेकर बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा है कि अफगानिस्तान में अमेरिका का सैन्य ऑपरेशन अब ज्यादा दिनों तक जारी नहीं रहेगा। वहां से अमेरिकी सेना को 31 अगस्त के बाद वापस स्वदेश बुलाने की घोषणा की है। बाइडेन का ऐलान ऐसे समय में आया है जब तालिबान तेजी से जिलों और कस्बों पर कब्जा कर रहा है।

बाइडेन ने अपने संबोधन में कहा, “अमेरिकी सेना ने ओसामा बिन लादेन को मारना, अल-कायदा को खत्म करना और अमेरिका पर हमले रोकने जैसे सभी लक्ष्य पा लिए हैं। अमेरिका उन नीतियों पर अटका नहीं रह सकता, जो 20 साल पहले की दुनिया में प्रतिक्रिया देने के लिए बनाई गई थी।” बाइडेन ने आगे कहा, “अमेरिका देश बनाने के लिए अफगानिस्तान नहीं गया था और अफगान लोग ही अपना भविष्य तय करें।”

बाइडेन को अफगान सुरक्षा बलों पर भरोसा है। उन्होंने कहा, “मैं तालिबान पर भरोसा नहीं करता, लेकिन मैं अफगान मिलिट्री पर विश्वास रखता हूं।” अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस बात से इंकार नहीं किया कि तालिबान पर भरोसा करना बड़ी गलती होगी इसलिए उस पर भरोसा नहीं किया जा सकता।

बता दें कि अफगानिस्तान में एक बार फिर तालिबानियों का आतंक बढता जा रहा है। इन लोगों ने देश के कई हिस्सों पर अपना कब्जा जमा चुके हैं। इसके साथ ही वहां सुरक्षा स्थिति तेजी के साथ बिगड़ती जा रही है।

अमेरिका की तरफ से अपने सभी सैनिकों की वापसी के ऐलान के बाद तालिबानियों का हौसला बुलंद हो गया है। उनकी ताकत लगातार बढ़ती जा रही है जबकि अफगानिस्तान के सुरक्षाबल वहां से जान बचाने के लिए दूसरी जगहों पर भाग रहे हैं।

Latest Articles

NewsExpress