शनिवार, नवम्बर 13, 2021

कौन है वो जिसने दिया इमरान को मुंहतोड़ जवाब,कहा – लादेन को पालते हो, जल्दी पीओके खाली करो

पाकिस्तान की चाहे कितनी भी बेइज़ती क्यों न हो जाए, वह अंतरराष्ट्रीय मंचों पर कश्मीर के राग को अलापने से बाज नहीं आता। आज यानि शनिवार को पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र के मंच से भारत के खिलाफ जहर उगलने में कोई कसर नहीं छोड़ी और हर बार की तरह इस बार भी भारत ने पाकिस्तान को मुँहतोड़ जवाब दिया।

जिसने इमरान खान को मुँहतोड़ जवाब दिया वो है संयुक्त राष्ट्र में भारत की प्रथम सचिव स्नेहा दुबे। स्नेहा दुबे ने राइट टू रिप्लाई का इस्तेमाल कर कहा कि संयुक्त राष्ट्र मंच का पाकिस्तान ने हमेशा गलत इस्तमाल किया है। भारत ने दुनिया के सामने ओसामा बिन लादेन का नाम लेकर पाकिस्तान की पोल खोल दी है कि कैसे आतंक का आका आतंकवाद का समर्थन करता रहा है।

बता दें कि आज यानि शनिवार की सुबह इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित कर कहा कि पाकिस्तान शांति चाहता है और कश्मीर विवाद के समाधान से ही दक्षिण एशिया में शांति स्थापित होगी।

राइट टू रिप्लाई के तहत भारत की तरफ से इमरान के भाषण पर जवाब देते हुए भारत की स्नेहा दुबे ने कहा कि अफसोस की बात है कि यह पहली बार नहीं है ,जब पाकिस्तान के नेता ने मेरे देश के खिलाफ झूठे और दुर्भावनापूर्ण प्रचार करने के लिए ,संयुक्त राष्ट्र के मंचों का दुरुपयोग किया है। वह दुनिया का ध्यान अपने देश की उस स्थिति से हटाने की कोशिश कर रहे हैं। जहां आतंकवादी फ्री पास का आनंद लेते हैं। जबकि आम लोगों, विशेष रूप से अल्पसंख्यक समुदायों के लोगों का जीवन वहां उलटा हो जाता है। उनके ऊपर अत्याचार होते है।

स्नेहा ने आगे कहा कि पाकिस्तान आतंकवादियों को हथियार देने के लिए विश्व स्तर पर जाना जाता है और पाकिस्तान के पास संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा प्रतिबंधित आतंकवादियों की सबसे बड़ी संख्या की मेजबानी करने का अपमानजनक रिकॉर्ड है। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के संपूर्ण केंद्र शासित प्रदेश भारत के अभिन्न और अविभाज्य अंग थे, हैं और रहेंगे। इसमें वे भी क्षेत्र शामिल हैं जो पाकिस्तान के अवैध कब्जे में हैं। हम पाकिस्तान से उसके अवैध कब्जे वाले सभी क्षेत्रों को तुरंत खाली करने के लिए कहते हैं।

उन्होंने आगे कहा कि ओसामा बिन लादेन को पाकिस्तान में पनाह मिली और आज भी पाकिस्तान लादेन को ‘शहीद’ बताता है। पाकिस्तान अपने घर में आतंकवादियों को इसलिए पालता है कि उन्हें लगता है कि वे केवल उनके पड़ोसियों को नुकसान पहुंचाएंगे। जबकि हम सुनते रहते हैं कि पाकिस्तान ‘आतंकवाद का शिकार’ है। आग लगाने वाला पाक नकाब पहनकर खुद को फायर फाइटर बता रहा है।

इमरान खान ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार यानि आरएसएस और भाजपा को टारगेट करते हुए कहा कि अमेरिका में 9/11 हमलों के बाद दुनियाभर के मुसलमानों पर हमले शुरू कर दिए और भारत में इसका सबसे ज्यादा असर है। भारत ने कश्मीर पर जबरन कब्जा कर रखा है।

इमरान खान ने पाकिस्तान समर्थक अलगावादी नेता सैयद अली शाह गिलानी की मौत का भी जिक्र किया और कहा कि गिलानी के परिजनों के साथ अन्याय हुआ। उनके परिवार ने कहा है कि कश्मीर में अलगाववादी नेता को उचित इस्लामिक तरीके से दफनाने से इनकार करते हुए भारतीय अधिकारियों ने उनके शव को ले लिया और उन्हें उनकी सहमति के बिना दफन कर दिया। मैं इस असेंबली से मांग करता हूं कि गिलानी के परिवार को उनका अंतिम संस्कार इस्लामी तरीके से करने की मंजूरी दी जाए।

Latest Articles

NewsExpress